सम्पूर्ण जानकारी

भारत के पड़ोसी देश कब कब आजाद हुआ इसका स्वतंत्रता दिवस कब आता हे

भारत के पड़ोसी देश कब हुए आजाद

1947 में जब भारत आजाद हुआ तो एशिया और उसके बाहर भी देशो के आजाद होने का एक सिलसिला चल रहा था। देश आजाद हो रहे थे और एक दूसरे की आजादी में मदद कर रहे थे। देखिये भारत के आसपास के मुल्कों को आजादी कब मिली।

भूटान 17 दिसंबर 1907

भूटान दुनिया के उन देशों में हैं जो इतिहास में ज्यादातर आजाद रहे. भूटान पर किसी का शासन नहीं था लेकिन ऐसा कहा जाता है कि तिब्बत के कामरूप शासन ने उन्हें कुछ वक्त तक अपने अधीन रखा था. 1907 की इस तारीख से ही वांगचुक वंश ने देश की बागडोर अपने हाथ में ली. भूटान इसे ही अपना राष्ट्रीय दिवस मानता है.

इंडोनेशिया 17 अगस्त 1945

इंडोनेशिया ने डच शासन से खुद को इसी दिन आजाद घोषित किया था और तब ब्रिटिश इंडिया उन शुरूआती देशों में था जिसने इसे मान्यता दी थी. हालांकि तब भारत खुद अपनी आजादी की लड़ाई लड़ रहा था.

पाकिस्तान 14 अगस्त 1947

भारत का बंटवारा करके पाकिस्तान का जन्म हुआ और भारत की आजादी से ठीक एक दिन पहले ये नया देश अस्तित्व में आया. इस आजादी में विभाजन का दर्द छिपा था जो 70 साल के बाद भी दोनों मुल्कों के लोगों को तकलीफ देता है.

म्यांमार 4 जनवरी 1948

भारत के पड़ोसी देश म्यांमार को 1948 में आजादी मिली तब इसका नाम बर्मा था. आजादी की लड़ाई में सुभाष चंद्र बोस की आजाद हिंद फौज बर्मा के रास्ते ही भारत आई थी.

श्रीलंका 4 फरवरी 1948

श्रीलंका को इसी दिन ब्रिटिश हुकूमत से आजादी मिली. इस दिन को यहां राष्ट्रीय छुट्टी रहती है और पूरे देश में समारोह मनाया जाता है.

चीन 1 अक्टूबर 1949

चीन हर साल एक अक्टूबर को अपना स्वतंत्रता दिवस मनाता है. इसी दिन थियानमेन चौक पर सेंट्रल पीपुल्स गर्वनमेंट का गठन हुआ था. हालांकि पीपुल्स रिपबल्कि ऑफ चाइना की स्थापना 21 सितंबर को ही हो गई थी लेकिन सरकार के गठन को ही चीन की सरकार ने आपना राष्ट्रीय दिवस घोषित किया.

मलेशिया 31 अगस्त 1957

मलेशिया की आजादी आसपास के दूसरे देशों की तुलना में इसलिए थोड़ी अलग है क्योंकि इस मुल्क को ब्रिटिश हुकूमत से आजादी शांतिपूर्ण बातचीत के जरिये हासिल हो गई. एक साल पहले तय हुए समझौते का इसी दिन सार्वजनिक एलान हुआ था.

बांग्लादेश 26 मार्च 1971

पाकिस्तान का हिस्सा रहे इस धरती को शेख मुजीबुर रहमान ने आजाद घोषित कर दिया. इसके बाद 9 महीने के खूनी संघर्ष और भारत से मिले सैनिक सहयोग की बदौलत बाग्लादेश अपनी आजादी हासिल करने में कामयाब हुआ.

नेपाल

हिमालय की तलहटी में बसा छोटा सा पहाड़ी देश नेपाल दुनिया का इकलौता मुल्क है जो कभी भी गुलाम नहीं रहा. यह अपने पूरे इतिहास में हमेशा आजाद रहा है.

1947 में जब भारत आजाद हुआ तो एशिया और उसके बाहर भी मुल्कों के आजाद होने का एक सिलसिला चल रहा था. देश आजाद हो रहे थे और एक दूसरे की आजादी में मदद कर रहे थे. देखिये भारत के आसपास के मुल्कों को आजादी कब मिली.

DSGuruJi - PDF Books Notes

Leave a Comment