बाइनरी नंबर सिस्टम (द्विआधारी संख्या प्रणाली) क्या है?

जिस प्रकार “दशमलव संख्या प्रणाली”/ डेसीमल नंबर सिस्टम में संख्याओं को लिखने के लिए 0-9 तक के दस अंक है|

उसी प्रकार बाइनरी नंबर सिस्टम (द्विआधारी संख्या प्रणाली) में कोई भी संख्या सिर्फ 2 अंको के माध्यम से ही लिखी जाती है, वे दो अंक है 0 और 1|

डेसीमल  बाइनरी
0 0
1 1
2 10
3 11
4 100
5 101
6 110
7 111
8 1000
9 1001
10 1010
11 1011
12 1100
13 1101
14 1110
15 1111
  • डेसीमल में आधार 10 होता है और बाइनरी में आधार 2 होता है|
  • कंप्यूटर बाइनरी गणना पर ही चलता है क्यों की इलेक्ट्रॉनिक्स में किसी भी सिग्नल की चालू या  बंद दो ही अवस्था हो सकती है|
error: Content is protected !!
/* ]]> */