अमेरिका ने सैन्य संचार के लिए बेहद उच्च आवृत्ति उपग्रह की शुरूआत की

26 मार्च, 2020 को संयुक्त राष्ट्र अंतरिक्ष बल ने अपने सैन्य संचार के लिए एक हाइपर-सुरक्षित उपग्रह का प्रक्षेपण किया । उपग्रह के प्रक्षेपण के साथ ही अमेरिका ने अपना पहला राष्ट्रीय सुरक्षा मिशन शुरू कर दिया है । उपग्रह प्रक्षेपण एक ऐसे चरण में आया है जहां COVID-19 संक्रमित व्यक्तियों की संख्या इटली और चीन से आगे निकल गई है ।

 मुख्य बिन्दु

लॉक हीड मार्टिन एईएचएफ (एडवांस्ड बेहद हाई फ्रीक्वेंसी) सैटेलाइट को फ्लोरिडा से लॉन्च किया गया था । यह उपग्रह वैश्विक संरक्षित संचार प्रदान करना है । इससे जमीनी, हवाई और समुद्री मंच पर अमेरिका के सामरिक परिचालन युद्ध कौशल में वृद्धि होगी ।

अमेरिकी अंतरिक्ष बल

अमेरिकी अंतरिक्ष बल देश की छठी सेवा है। रक्षा की पहली पांच बड़ी सेवाओं में सेना, वायु सेना, नौसेना, नौसेना कोर और तटरक्षक बल शामिल हैं। अंतरिक्ष बल की स्थापना हाल ही में राष्ट्रपति ट्रंप ने नई अंतरिक्ष रक्षा प्रौद्योगिकियों की पहचान और विकास के लिए की थी ।

अंतरिक्ष बल को अन्य बल के बीच अंतरिक्ष में अमेरिका का प्रभुत्व साबित करना है जो चुपचाप अंतरिक्ष में अपनी शक्तियों की स्थापना कर रहे हैं । इसमें चीन और रूस शामिल हैं।

READ  एफएटीएफ ने पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में रखा यथावत

Leave a Comment

error: Content is protected !!