राजस्थान GK नोट्स

सीकर जिला {Sikar District} राजस्थान GK अध्ययन नोट्स

1. महत्वपूर्ण तथ्य

  • सीकर जिले का कुल क्षेत्रफल = 7,732 किमी²
  • सीकर जिले की जनसंख्या (2011) = 26,77,737
  • सीकर जिले का संभागीय मुख्यालय = जयपुर

2. भौगोलिक स्थिति

  • भौगोलिक स्थिति: 27.62°N 75.15°E
  • सीकर शेखावाटी, राजस्थान का सबसे बड़ा शहर और ज़िला मुख्यालय है।
  • इसके उत्तर में झुन्झुनूं, उत्तर-पश्चिम में चूरू, दक्षिण-पश्चिम में नागौर और दक्षिण-पूर्व में जयपुर जिले की सीमायें लगती हैं।

3. इतिहास

  • सीकर शहर जुझारसिंह नेहरा के नाम पर सन् 1730 में बसाया गया था।
  • नेहरा लोगों के प्रसिद्द सरदार जुझारसिंह नेहरा का जन्म संवत 1721 विक्रमी श्रावण महीने में हुआ था।
  • उनके पिता नवाब के यहाँ फौज के सरदार यानि फौजदार थे। उनकी हार्दिक इच्छा थी कि नवाबशाही के खिलाफ जाट लोग मिल कर बगावत करें.
  • सरदार जुझार सिंह, शार्दुल सिंह ने नवाबशाही को समाप्त किया लेकिन उन्हें तिलक करने के बाद विश्वासघात कर मार डाला गया

4. कला एवं संस्कृति

  • यह राजस्थानी परंपरा एवं संस्कृति की छाप छोड़ने वाले एक संभाग है।
  • यहाँ शेखावाटी लोककला एवं वेशभूषा देखते ही बनती है

5. शिक्षा

  • यह शेखावटी का एक प्रमुख शिक्षा का केंद्र है
  • प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षा हेतु सरकारी, स्कूल एवं निजी क्षेत्र की कई स्कूल हैं
  • तकनिकी शिक्षा के लिए इंजीनियरिंग एवं डिप्लोमा कॉलेज हैं
  • सीकर में दो महाविद्यालय है, जो राजस्थान विश्वविद्यालय से संबद्ध हैं।

6. खनिज एवं कृषि

  • कृषि यहाँ का मुख्य पेशा है; बाजरा, दालें, जौ और कपास मुख्य फसलें हैं।
  • ज़िले में सीमेंट और कपास ओटाई के कारखाने हैं।
  • यहाँ बेरीलियम, अभ्रक, संगमरमर और फ्लोराइट का खनन होता है।

7. प्रमुख स्थल

  • खाटूश्यामजी भारत देश के राजस्थान राज्य के सीकर जिले में एक प्रसिद्ध कस्बा है, जहाँ पर बाबा श्याम का जग विख्यात मन्दिर है। हिन्दू धर्म के अनुसार, खाटूश्यामजी कलियुग मे कृष्ण का अवतार है, जिन्होनें श्री कृष्ण से वरदान प्राप्त किया था कि वे कलियुग में उनके नाम से पूजे जायेंगे।
  • हर्षनाथ मंदिर सीकर ज़िले के निकट स्थित एक ऐतिहासिक मंदिर है। चाहमान शासकों के कुल देवता – शिव हर्षनाथ का यह मंदिर हर्षगिरी पर स्थित हैं तथा महामेरु शैली में निर्मित हैं। हर्षगिरि ग्राम के पास हर्षगिरि नामक पहाड़ी है, जो 3,000 फुट ऊँची है और इस पर लगभग 900 वर्ष से अधिक प्राचीन मंदिरों के खण्डहर हैं।
  • जीण माता मंदिर सीकर जिले में स्थित है। यह सीकर से 19 किलोमीटर दक्षिण में स्थित है। यहाँ पर जीणमाता (शक्ति की देवी) एक प्राचीन मन्दिर स्थित है। जीणमाता का यह पवित्र मंदिर सैकड़ों वर्ष पुराना माना जाता है।

8. नदी एवं झीलें

  • सीकर में कम बारिश होने के कारण कोई प्रमुख नदी नहीं है। कुछ बरसाती छोटी नदियां एवं नाले ही हैं

9. परिवहन और यातायात

  • यह जयपुर से 125 कि.मी. की दूरी पर स्थित है।
  • सीकर का निकटतम एयरपोर्ट जयपुर है
  • यहाँ से जयपुर, अजमेर, दिल्ली आदि शहरों से बस सेवाएं उपलब्ध हैं।

10. उद्योग और व्यापार

  • खनन एवं कृषि यहाँ के प्रमुख व्यवसाय है
  • सीकर के हस्तशिल्प में वस्त्रोद्योग, मिट्टी के बर्तन, मीनाकारी और लाख का सामान शामिल है।
DSGuruJi - PDF Books Notes