GK in Hindi

RAJASTHAN GK: General Knowledge Previous Year Papers

41. कविवर बिहारी दरबारी कवि थे-

(a) जयपुर नरेश मिर्जा राजा जयसिंह
(b) अकबर
(c) जयपुर नरेश सवाई प्रतापसिंह
(d) सवाई जयसिंह

Ans:(a)

42. राजस्थान के प्रसिद्ध साहित्कार डॉ. जयसिंह नीरज निवासी थे-

(a) बूँदी के
(b) अजमेर के
(c) अलवर के
(d) कोटा के

Ans: (c)

43. ‘बरसां रा डिगोड़ा डूँगर लांघिया’ के रचयिता हैं-

(a) मणि मधुकर
(b) स्व. नारायणसिंह भाटी
(c) श्रीलाल नथमल जोशी
(d) स्व. हमीदुल्ला

Ans: (b))

44. राजस्थान की भाषा के लिए ‘राजस्थानी’ शब्द सर्वप्रथम किसने प्रयुक्त किया?

(a) उद्योतन सूरी
(b) जॉर्ज अब्राह्‌म ग्रियर्सन
(c) जेम्स टॉड
(d) सूर्यमल्ल मिश्र

Ans: (b))

45. उद्योतन सूरी द्वारा रचित ‘कुवलयमाला’ में किस भाषा को ‘मरुभाषा’ कहा जाता है?

(a) मालवी
(b) मारवाड़ी
(c) मेवाड़ी
(d) मेवाती

Ans: (b))

46. पश्चिमी राजस्थान की प्रतिनिधि बोलियाँ हैं-

(a) मारवाड़ी
(b) मेवाड़ी
(c) बागड़ी
(d) उपर्युक्त सभी

Ans: (d)

47. ढूँढाड़ी, हाड़ौती, मेवाती एवं अहीरवाटी प्रतिनिधि बोलियाँ हैं-

(a) पूर्वी राजस्थान की
(b) दक्षिणी राजस्थान की
(c) पश्चिमी राजस्थान की
(d) उत्तरी राजस्थान की

Ans:(a)

48. हाड़ौती का भाषा के अर्थ में प्रयोग सर्वप्रथम किसके द्वारा किया गया?

(a) जॉर्ज अब्राह्‌म ग्रियर्सन
(b) केलॉग
(c) जेम्स टॉड
(d) उद्योतन सूरि

Ans: (b))

49. राजिये रा सोरठा, वेलि किसन रुक्मणी री, ढोला मारवण, मूमल आदि लोकप्रिय काव्य किस भाषा में रचित हैं?

(a) ढूँढाड़ी
(b) हाड़ौती
(c) मारवाड़ी
(d) मेवाड़ी

Ans: (c)

50. जोधराज का हम्मीर रासौ महाकाव्य, शंकर राव का भीम विलास काव्य, अलीबख्शी ख्याल आदि की रचना किस बोली में की गई है?

(a) मारवाड़ी
(b) मेवाड़ी
(c) अहीरवाटी
(d) तोरावाटी

Ans: (c)

51. पश्चिमी हिन्दी एवं राजस्थानी के मध्य सेतु (समन्वय) का कार्य करती है-

(a) हाड़ौती
(b) मेवाती
(c) ढूँढाड़ी
(d) मेवाड़ी

Ans: (b))

52. साहित्यिक मारवाड़ी कही जाती है-

(a) बागड़ी
(b) डिंगल
(c) मेवाड़ी
(d) पिंगल

Ans: (b))

53. मेवाड़ी, ढूँढाड़ी एवं हाड़ौती का मिश्रण है-

(a) खैराड़ी
(b) रांगड़ी
(c) गौड़वाड़ी
(d) मालवी

Ans:(a)

54. 1960 में बोरूदा ग्राम (जोधपुर जिला) में स्थापित होने वाला संस्थान है

(a) राजस्थान प्राच्य विद्या प्रतिष्ठान
(b) राजस्थान ललित कला अकादमी
(c) राजस्थान कला संस्थान
(d) रूपायन संस्थान

Ans: (d)

Table of Contents

अध्याय 14. नाट्‌य, नृत्य एवं संगीत

राजस्थानी लोक-कथाओं के संग्रह ‘बातां री फुलवारी’ के लेखक हैं-

(a) सूर्यमल्ल मिश्र
(b) विजयदान देथा
(c) नरोत्तमदास स्वामी
(d) अमरचन्द नाहटा

Ans: (b))

2. भवाई नृत्य की पहली महिला कलाकार जिसने राजस्थान और उसके बाहर इस नृत्य को पहचान दिलाई-

(a) गुलाबो
(b) जोधपुर की पुष्पा व्यास
(c) किशनगढ़ की फुलमाँ
(d) भीलवाड़ा की वीणा अजमेरा

Ans: (b))

3. नृत्य नाटक ‘सूरदास’, (‘बोराबोरी’) ‘डोकरी’ एवं ‘शंकरिया’ किस पेशेवर लोकनृत्य से संबंधित हैं

(a) तेरहताली
(b) भवाई
(c) कच्छी घोड़ी
(d) नेजा

Ans: (b))

4. सुमेलित कीजिए नृत्य जाति
(अ) बिछुड़ो 1. कालबेलिया
(ब) गेरू 2. बणजारा
(स) बलेदी 3. गूजर
(द) घूमर-घूमरा 4. वागड़ क्षेत्र का ब्राह्मण समुदाय

(a) अ-2, ब-3, स-1, द-2
(b) अ-3, ब-4, स-2, द-1
(c) अ-1, ब-3, स-4, द-2
(d) अ-1, ब-4, स-2, द-3

Ans: (d)

5. झूमर नृत्य को प्रसिद्ध किया

(a) कजरी
(b) डाली बाई
(c) माँगी बाई
(d) लाडी बाई

Ans: (b))

6. आहोर (जालौर) के बिजली गाँव का प्रसिद्ध नृत्य है

(a) शूकर नृत्य
(b) कक्का नृत्य
(c) झाला नृत्य
(d) रिछवा नृत्य

Ans:(a)

7. भीलों में प्रचलित नृत्य जो शौर्यपरक कठिन साहस का द्योतक है

(a) खारी नृत्य
(b) हाथीमना नृत्य
(c) शूकर नृत्य
(d) धाड़ नृत्य

Ans: (b))

8. संगीत रत्नाकर के रचनाकार कौन हैं

(a) शारंग देव
(b) अहोबल
(c) रामामात्य
(d) भरतमुनि

Ans:(a)

9. कौन-सा युग्म असंगत है? संगीत गं्रथ रचनाकार

(a) नाट्‌य शास्त्र : भरत मुनि
(b) मान कुतुहल : राजा मानसिंह तोमर
(c) सूड प्रबंध : राणा कुंभा
(d) संगीत दर्पण : भाव भट्‌ट

Ans: (d)

10. राजस्थान संगीत नाटक अकादमी कहाँ स्थित है?

(a) जोधपुर
(b) जयपुर
(c) उदयपुर
(d) कोटा

Ans:(a)

11. संगीत पारिजात किसने लिखा?

(a) अहोबल
(b) कुमार गंधर्व
(c) मोहम्मद रजा
(d) भातखण्डे

Ans:(a)

12. कला धरोहर का संरक्षण तथा राज्य के कलाकारों को प्रोत्साहित करने के लिए जयपुर में सन्‌ 1993 में किस केन्द्र की स्थापना की गई थी?

(a) जवाहर कला केन्द्र
(b) रंगमंच
(c) रवीन्द्र मंच
(d) जयपुर कथक केन्द्र

Ans:(a)

13. निम्न में से कौन-सा तत्‌ वाद्य नहीं है?

(a) रावणहत्था
(b) नौबत
(c) सारंगी
(d) जन्तर

Ans: (b))

14. ‘पिया बसन्ती’ का एलबम तथा ‘अलबेला सजन घर आयो’ के गायक हैं

(a) ठाकुर किशनसिंह
(b) उस्ताद सुल्तान खाँ
(c) उस्ताद हिदासत खाँ
(d) पं. शशिमोहन भट्‌ट

Ans: (b))

15. सुमेलित कीजिए कलाकार क्षेत्र
(अ) पं. पुरुषोत्तम 1. पखावज वादक दास
(ब) पं. बृजभूषण 2. गिटार वादक लाल काबरा
(स) पं. मन्नालाल 3. वीणाकार
(द) सत्यदेव पंवार 4. वायलिन वादक

(a) अ-2, ब-3, स-4, द-1
(b) अ-3, ब-4, स-1, द-2
(c) अ-1, ब-2, स-3, द-4
(d) अ-4, ब-3, स-1, द-2

Ans: (c)

16. राजस्थान के वे कलाकार जो प्रख्यात्‌ कथक नर्तक होने के साथ-साथ अद्वितीय तबला वादक एवं पखावज वादक भी थे?

(a) पं. दुर्गालाल
(b) पं. देवीलाल
(c) पं. ओंकारलाल
(d) पं. सुंदर प्रसाद

Ans:(a)

17. उस्ताद सुल्तान खाँ हैं

(a) सारंगी वादक
(b) शास्त्रीय गायक
(c) तबला वादक
(d) सरोद वादक

Ans:(a)

18. राजस्थानी रंगमंच को सृजनात्मक रूप देने वाले कलाकार श्री कन्हैयालाल पंवार का जन्म हुआ

(a) चुरू
(b) जोधपुर
(c) अलवर
(d) सिरोही

Ans: (b))

19. बाँसवाड़ा की सुश्री प्रेरणा श्रीमाली हैं

(a) जयपुर घराने की कथक कलाकार
(b) सितार वादक
(c) राज्य की पहली महिला तबला वादक
(d) गिटार वादक

Ans:(a)

20. किशनगढ़ की श्रीमती फलकूबाई ने किस नृत्य को लोकप्रिय बनाने में अद्वितीय योगदान दिया?

(a) गुजरों का चरी नृत्य
(b) शिकारी नृत्य
(c) रतवई नृत्य
(d) रणबाजा नृत्य

Ans:(a)
DSGuruJi - PDF Books Notes

Leave a Comment