Blog

पीएम किसान सम्मान सम्मेलन के दौरान पीएम मोदी जारी करेंगे 16,000 करोड़ रुपये का फंड

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 17 अक्टूबर को राष्ट्रीय राजधानी के भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान में “पीएम किसान सम्मान सम्मेलन 2022” का उद्घाटन करेंगे।

कार्यक्रम के दौरान, पीएम प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण के माध्यम से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) के तहत 16,000 करोड़ रुपये की 12 वीं किस्त राशि जारी करेंगे।

देश भर के 13,500 से अधिक किसान और लगभग 1500 कृषि स्टार्टअप इस कार्यक्रम को देखने के लिए इकट्ठा होंगे।

अधिकारियों ने बताया कि विभिन्न संस्थानों के एक करोड़ से अधिक किसानों के वर्चुअल तरीके से कार्यक्रम में शामिल होने की उम्मीद है। सम् मेलन में शोधकर्ताओं, नीति निर्माताओं और अन् य हितधारकों की भागीदारी भी देखी जाएगी।

प्रधानमंत्री रसायन और उर्वरक मंत्रालय के तहत 600 प्रधानमंत्री किसान समृद्धि केंद्रों (पीएमकेएसके) का उद्घाटन करेंगे। इस योजना के तहत, देश में उर्वरक खुदरा दुकानों को चरणबद्ध तरीके से पीएमकेएसके में परिवर्तित किया जाएगा। पीएमकेएसके किसानों की विभिन्न प्रकार की जरूरतों को पूरा करेगा और कृषि-इनपुट (उर्वरक, बीज, उपकरण) प्रदान करेगा; मिट्टी, बीज, उर्वरकों के लिए परीक्षण सुविधाएं; किसानों के बीच जागरूकता पैदा करना; विभिन्न सरकारी योजनाओं के बारे में जानकारी प्रदान करना और ब्लॉक / जिला स्तर के आउटलेट्स पर खुदरा विक्रेताओं का नियमित क्षमता निर्माण सुनिश्चित करना। 3.3 लाख से अधिक खुदरा उर्वरक दुकानों को पीएमकेएसके में परिवर्तित करने की योजना है।

इस कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री भारतीय जन उर्वरक परियोजना-एक राष्ट्र एक उर्वरक का शुभारंभ करेंगे। इस योजना के तहत, पीएम भारत यूरिया बैग लॉन्च करेंगे, जो कंपनियों को एकल ब्रांड नाम “भारत” के तहत उर्वरकों का विपणन करने में मदद करेगा।

इस योजना के तहत पात्र किसान परिवारों को 2000 रुपये की तीन समान किस्तों में प्रति वर्ष 6000 रुपये का लाभ प्रदान किया जाता है। पीएम-किसान के तहत अब तक पात्र किसान परिवारों को 2 लाख करोड़ रुपये से अधिक का लाभ मिल चुका है।

प्रधानमंत्री एग्री स्टार्टअप कॉन्क्लेव और प्रदर्शनी का भी उद्घाटन करेंगे। लगभग 300 स्टार्टअप प्रेसिजन फार्मिंग, पोस्ट हार्वेस्ट एंड वैल्यू एड सॉल्यूशंस, एलाइड एग्रीकल्चर, वेस्ट टू वेल्थ, छोटे किसानों के लिए मशीनीकरण, सप्लाई चेन मैनेजमेंट, अर्गी-लॉजिस्टिक आदि से संबंधित अपने नवाचार का प्रदर्शन करेंगे। यह मंच स्टार्टअप को किसानों, एफपीओ, कृषि विशेषज्ञों, कॉर्पोरेट्स आदि के साथ बातचीत करने की सुविधा प्रदान करेगा। स्टार्टअप अपने अनुभव भी साझा करेंगे और तकनीकी सत्रों में अन्य हितधारकों के साथ बातचीत करेंगे।

DsGuruJi Homepage Click Here
DSGuruJi - PDF Books Notes

Leave a Comment