Advertisements

राजस्थान राज्य में व्यवस्थापिका (Manager in Rajasthan State) राजस्थान GK अध्ययन नोट्स

  • व्यवस्थापिका भारतीय जनतंत्र के तीन अंगों में से एक है। अन्य दो अंग हैं – कार्यपालिका और न्यायपालिका।
  • राजस्थान भारत का एक राज्य है जहाँ एक सदनीय व्यवस्थापिका का प्रावधान है, जिसे विधानसभा कहा जाता है
  • राजस्थान में विधानसभा की कुल 200 सीटें हैं ।
  • भारत में कुल 6 राज्य है जहाँ द्विसदनीय व्यवस्थापिका है अर्थार्त विधानसभा एवं विधान परिषद दोनों हैं ।
  • विधान परिषद वाले 6 राज्य हैं जम्मू कश्मीर, आँध्रप्रदेश, महाराष्ट्र, बिहार, कर्नाटक एवं उत्तर प्रदेश, राजस्थान भी विधान परिषद की मांग के लिए प्रयासरत है ।
  • केंद्र स्तर पर व्यवस्थापिका संसद को कहते हैं जिसके दो सदन हैं – उच्चसदन राज्यसभा और निम्नसदन लोकसभा। राज्यसभा में 250 सदस्य होते हैं जबकि लोकसभा में 552 हैं। राज्यसभा के सदस्यों का चुनाव, अप्रत्यक्ष विधि से ६ वर्षों के लिये होता है, जबकि लोकसभा के सदस्यों का चुनाव प्रत्यक्ष विधि से होता है ।
  • राजस्थान के प्रथम मनोनीत मुख्यमंत्री हीरा लाल शाश्त्री (1949) थे ।
  • राजस्थान के प्रथम निर्वाचित मुख्यमंत्री टीकाराम पालीवाल (1952) थे ।
  • राजस्थान की प्रथम महिला मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे थी ।
  • राजस्थान के प्रथम विधानसभा अध्यक्ष श्री नरोत्तम जोशी थे ।
  • राजस्थान की प्रथम महिला विधानसभा अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा सिंह थी
error: Content is protected !!