Advertisements

मालवी बोली {Malviya Bid} राजस्थान GK अध्ययन नोट्स

  • झालावाड़, कोटा और प्रतापगढ़ जिलों में मालवी बोली का प्रचलन है।
  • यह भाग मध्यप्रदेश के मालवा क्षेत्र के समीप है।
  • मालवी बोली में मारवाड़ी एवं ढूंढाड़ी दोनों की कुछ विशेषताएं पाई जाती है। कहीं-कहीं मराठी का भी प्रभाव झलकता है।
  • मालवी एवं कर्णप्रिय एवं कोमल भाषा है। इस बोली का रांगड़ी रूप कुछ कर्कश है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!