लेज़र प्रिंटर कैसे कार्य करता है?

  • लेजर मुद्रण एक इलेक्ट्रोस्टैटिक (विद्युत आवेग द्वारा) डिजिटल मुद्रण की प्रक्रिया है, जिसमें एक भिन्‍नरूपेण चार्ज छवि को परिभाषित करने के लिए, नकारात्मक चार्ज हुए बेलनाकार ड्रम पर लेज़र बीम को बार बार आगे-पीछे घुमाकर उच्च गुणवत्ता वाले पाठ और ग्राफिक्स (और मध्यम गुणवत्ता तस्वीरें ) का उत्पादन किया जाता है|
  • इसके बाद बेलनाकार ड्रम चुनिंदा रूप से विद्युत से चार्ज हुए स्याही पाउडर (टोनर) से कागज पर छवि बना देता है|
  • उसे बाद में गरम करके पेपर पर बनी छवि को स्थाई कर दिया जाता है|
  • लेज़र प्रिंटर पर और अधिक जानकारी के लिए यहाँ जाएँ
error: Content is protected !!
/* ]]> */