Today Current Affairs Quiz

CET क्या है: CET Exam Details Common Eligibility Test पूरी जानकारी हिन्दी में

CET Exam Details : CET Kya Hai Eligibility, Exam Date, Syllabus से सम्बन्धित हम आज के लेख मे सम्पूर्ण जानकारी विस्तार से बताएगे की CET Kise Kahte Hai, Common Eligibility Test Details और CET Online Formakaise Fill Kare तथा CET Exam Kaise Hota Hai से सम्बन्धित सम्पूर्ण लेख के बारे मे यहा पर हम आपको विस्तार से बताएगे तो नीचे दिए गए जानकारी को ध्यान पूर्वक पढे और आपको बताए दे की उपलब्ध जानकारी को हम हिन्दी भाषा मे हि बताएगे जिससे विद्यार्थीयो को सही ढंग से इस परीक्षा के बारे मे सब कुछ पता रहे।

CET Common Eligibility Test

परीक्षार्थियो को बार बार परीक्षा के बोझ से बचाने के लिए केन्द्र सरकार की पहल पर अब कर्मचारी चयन आयोग SSC पहली बार Common Eligibility Test (CET) करायगा। SSC की ओर से (CET) Graduation Level कराने की तैयारी शुरु हो गई है। फरवरी 2019 मे इसकी Exam होगे। (CET) पास करने वाले Student (SSC, Bank, Railway) की ओर से होने वाली परीक्षाओ मे सीधे दूसरे चरण की परीक्षा मे शामिल होगे।

CET Details in Hindi

इस टापिक मे हम नीचे बिन्दुवार क्रम से बताएगे की इससे सम्बन्धित मुख्य बिन्दु कौन कौन से है, जिसे Competitive Candidates को ध्यान मे रखना अत्यन्त आवश्यक है।

  1. आयोग के अनुसार (CET) की वैधता दो वर्ष की होगी।
  2. इसके अंक परीक्षार्थियो को दुसरे चरण की परीक्षा मे शामिल होने की Merit तय करेगे।
  3. ग्रेजुएशन 12 और10 पास वाले अभ्यर्थियो के लिए अलग अलग (CET) का आयोजन होगा।

फिलहाल प्रयोग के तौर पर पहली बार स्नातक स्तर पर पहली बार CET February 2019 मे कराया जाएगा। बताया (CET) पास करने के बाद Candidates को Railway, SSC, Bank की ओर से होने वाली दूसरे चरण की परीक्षा मे प्रवेश मिल जाएगा। संबधित विभाग दूसरे चरण की परीक्षा के लिए अपना विज्ञापन जारी करेगा।

CET Exam Details

इस टापिक मे हम बताएगे की CET Exam क्यो होगे और इससे Candidates को क्या फायदा मिलेगी जिसकी मदद से आने वाली प्रतियोगी परीक्षाओ के लिए क्या खास है, तो आपको बता दे इस परीक्षा के पास होने के बाद विद्यार्थि अगर SSC, BANK, RAILWAY Bharti Exams के लिए आवेदन के वक्त और परीक्षा मे कम हो जाएगी भीड बचेगा धन और समय।

SSC के क्षेत्रीय निदेशक ने बताया कि (CET) कराने का उद्देशय बार बार होने वाली परीक्षाओ मे भीड कम करना है। विभिन्न सरकारी विभागो मे पदो को भरने के लिए अलग अलग एजेंसी परीक्षा कराती है। इसके धन और समय दोनो खर्च होता है। हर परीक्षा मे 35-40 लाख परीक्षार्थी शामिल होते है। एक परीक्षा होने से समय और धन दोनो की बचत होगी। उन्होनो बताया कि भविष्य मे राज्य सरकार भी परीक्षार्थीओ की स्क्रीनिंग करने के लिए CET Merit का उपयोग कर सकती है। परीक्षा का पाठ्क्रम और पैटर्न SSC की ओर से होने वाली CGL, CHSL और MTS की पहले चरण की परीक्षा जैसा ही होगा।

तो कैसी लगी आपको हमारी cet exam details इसके बारे मे हमे नीचे Comment के माध्यम से बता सकते है, तथा अगर इस लेख से सम्बन्धित किसी प्रकार की अन्य जानकारी चाहिए तो हमे नीचे कमेट के माध्यम से अपना प्रश्न पूछ सकते है, और इसकी जानकारी अभी बहुत ही कम विद्यार्थियो को है, तो इसे ज्यादा से ज्यादा Share करके उपलब्ध जानकारी को साझा करें।

CET – Common Eligibility Test क्या है

सामान्य पात्रता परीक्षा यानि सीईटी (  Common Eligibility Test – CET ) एक प्रकार की परीक्षा है। जिसमे पास होने के बाद candidates को किसी भी group b और ग्रुप सी की भर्तियों के लिए सीधा Tier II के लिए पात्र माना जायेगा। ऐसी संस्थाए जो ग्रुप बी ( Group B Posts ) और ‘सी’ ( Group C Posts ) के पदों पर भर्ती करवाती है वे सभी संस्थाए और एसएससी (कर्मचारी चयन आयोग ) ने केंद्र सरकार को यह सुझाव दिया कि Group B और ग्रुप C के रिक्त पदों पर भर्ती के लिए हर साल प्रतियोगिता परीक्षाएं आयोजित करवाई जाती है जिसमे काफी समय लगता है और खर्च भी अधिक आता है।

ऐसे में इन सभी संस्थाओं ने यह सुझाव दिया कि क्यों ना इन पदों पर होने वाली भर्ती के लिए एक सामान्य पात्रता परीक्षा का न्यूनतम मापदंड तय कर दिया जाये और जो candidates इस परीक्षा में पास होगा उसको मेरिट के आधार पर भर्ती प्रक्रिया के लिए select कर लिया जाये।

CET Exam का आयोजन कर्मचारी चयन आयोग के द्वारा किया जायेगा और इस परीक्षा में पास होने वाले candidates को group b और ग्रुप सी की परीक्षाओं में सीधा दूसरे चरण में प्रवेश मिलेगा। लेकिन अभी तय नहीं किया गया है कि CET Exam का आयोजन किस संस्था के द्वारा किया जायेगा।

CET Exam – कौनसी संस्था आयोजित करवाएगी

इस की प्रक्रिया अभी चल रही है और इस परीक्षा के बारे में कई news websites पर कार्मिक मंत्रालय का एक बयान भी publish किया हुआ है जिसमे कहा गया है कि :

ग्रुप ‘बी गैर-राजपत्रित पदों, सरकार में ग्रुप ‘सी के कुछ पद और सहायक सरकारी संगठनों में इन्हीं पदों पर नियुक्ति के लिए उम्मीदवारों के चयन के लिए सामान्य पात्रता परीक्षा ( CET ) कराने के लिए एक विशिष्ट एजेंसी गठित करने का प्रस्ताव दिया गया है।

CET Exam Eligibility -न्यूनतम योग्यता 

इस में भाग के लिए candidates के पास निम्नलिखित Educational Qualification Criteria योग्यताएं एवं मापदंड होना आवश्यक है।

  1. किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड (केंद्र एवं राज्य) से 10th या 12th class pass होना आवश्यक है। 
  2. ग्रुप बी पदों पर भर्ती के लिए CET Exam का Graduation Level Test होगा जिसमे candidates के पास स्नातक की योग्यता होना आवश्यक है। इसके लिए candidates का किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक होना आवश्यक है।
  3. न्यूनतम अंक प्रतिशत के बारे में फ़िलहाल जानकारी नहीं दी गयी है।

CET Examination Pattern 

इस परीक्षा तहत अभ्यर्थियों की skills का परीक्षण होगा जिसमे Mental Ability, Reasoning, General Knowledge, Mathematics, हिंदी , English जैसे विषयो से प्रश्न पूछे जायेंगे। 
  1. CET Exam में कुल 200 अंको का paper होगा। 
  2. इस पेपर में कुल चार भाग होंगे। 
  3. सामान्य ज्ञान, गणित एवं बौद्धिक क्षमता परीक्षण, हिंदी एवं अंग्रेजी। 
  4. प्रत्येक भाग में कुल 25 प्रश्न होंगे एवं पेपर में कुल प्रश्नो की संख्या 200 होगी। 
  5. Paper में 1/3 Minus Marking भी होगी।

CET Syllabus

सभी स्टूडेंट्स जो इस भर्ती के लिए प्रिपरेशन कर रहे है वे यहाँ पर दिए जा रहे सिलेबस को ध्यान से देखे एवं समझे उसके बाद तैयारी करें।

1. अंग्रेजी व हिंदी भाग के महत्वपूर्ण टॉपिक्स : इस अनुभाग के द्वारा candidates के सामान्य अंग्रेजी भाषा के ज्ञान का परीक्षण किया जाता है।

  • Synonyms 
  • Antonyms 
  • Homonyms 
  • One word substitution 
  • Sentence completion
  • Spotting Errors
  • Sentence Improvements
  • Idioms & Phrases 
  • Spelling Test
  • Reading comprehension 
  • Active Voice/Passive Voice
  • Direct/Indirect Narration of sentence
  • Sentence Shuffling 
  • Shuffling of sentence in passage 
  • Cloze passage
  • Fill in the blanks

सामान्य हिंदी भाषा का ज्ञान : संज्ञा, सर्वनाम, क्रिया, विशेषण, समास ,संधि ,विलोम शब्द, पर्यायवाची, काल, शब्द शुद्धि, वाक्य शुद्धि, मुहावरे , लोकोक्तियां, समानार्थी शब्द, एकार्थी शब्द, व्यंजन। 
2. सामान्य बुद्धि एवं तर्कशक्ति परीक्षण : इस अनुभाग का मुख्य उद्देशय विद्यार्थी की बुद्धि का परीक्षण करना एवं निर्णय क्षमता का ज्ञान जानना।

  • उपमाएँ – शब्दार्थ सादृश्य, प्रतीकात्मक / संख्या सादृश्य, मूर्त सादृश्य
  • वर्गीकरण – शब्दार्थ वर्गीकरण, प्रतीकात्मक / संख्या वर्गीकरण, आंकिक वर्गीकरण
  • अंतरिक्ष अभिविन्यास
  • ट्रेंड्स 
  • मित्र चित्र 
  • आरेखण 
  • नंबर आधारिक सीरीज 
  • समस्यात्मक हल 
  • भावात्मक एवं सामाजिक बुद्धि 
  • शब्द रचना 
  • कोडिंग और डिकोडिंग 
  • प्रतीक एवं संख्या संचालन 
  • छिद्रित छेद / पैटर्न-तह और अन-तह
  • आंकड़े पैटर्न-तह और पूरा करना
  • जुड़े हुए नंबर पहचानना 
  • आलोचनात्मक बुद्धि 

3. मात्रात्मक योग्यता (बुनियादी अंकगणितीय कौशल) : इस अनुभाग के माध्यम से कैंडिडेट्स के गणितीय कौशल का परीक्षण किया जाता है। इसमें निम्नलिखित टॉपिक्स शामिल है :-

  • संख्या प्रणाली: पूर्ण संख्या की गणना, दशमलव और भिन्न, संख्याओं के बीच संबंध।
  • मौलिक अंकगणितीय संचालन: प्रतिशत, अनुपात और अनुपात, वर्गमूल, लाभ, ब्याज (साधारण और चक्रवृद्धि ), लाभ और हानि, छूट/बट्टा, भागीदारी व्यवसाय, मिश्रण, समय और दूरी, समय और काम।
  • बीजगणित: स्कूल बीजगणित और प्राथमिक आवृत्तियों (सरल समस्याओं) और रेखीय समीकरणों के रेखांकन की मूल बीजगणितीय पहचान।
  • ज्यामिति: प्राथमिक ज्यामितीय आंकड़ों और तथ्यों के साथ परिचित: त्रिभुज और इसके विभिन्न प्रकार के केंद्र, त्रिकोण की वृत्तियाँ, समता और समानता, वृत्त और इसके जीवा, स्पर्शरेखा, कोण एक वृत्त के जीवा द्वारा संयोजित, दो या दो से अधिक हलकों के लिए आम।
  • विभिन्न आकृतियां : त्रिभुज, चतुर्भुज, नियमित बहुभुज, वृत्त, दायाँ प्रिज़्म, दायाँ वृत्ताकार कोन, दायें वृत्ताकार सिलिंडर, क्षेत्र, गोलार्ध, आयताकार समानांतर चतुर्भुज, त्रिकोणीय या वर्गाकार आधार के साथ नियमित पिरामिड का क्षेत्रफल ज्ञात करना एवं कोणों का मान ज्ञात करना ।
  • त्रिकोणमिति: त्रिकोणमिति, त्रिकोणमितीय अनुपात, पूरक कोण, ऊँचाई और दूरियाँ (केवल साधारण समस्याएँ) को हल करना। 
  • सांख्यिकीय चार्ट: टेबल्स और ग्राफ़ का उपयोग: हिस्टोग्राम, फ्रीक्वेंसी बहुभुज, बार-आरेख, पाई-चार्ट इत्यादि का सामान्य उपयोग एवं समस्याओ का हल करना। 

4. सामान्य ज्ञान : इसमें इतिहास, राजनीती, भूगोल, संस्कृति इत्यादि के सामान्य ज्ञान का परीक्षा किया जाता है। इस में निम्नलिखित topics शामिल किये गए है।

  • इतिहास : भारत के संदर्भ में हड़प्पा सभ्यता के बारे में तथ्य और अन्य जानकारियां, भारत की वैदिक संस्कृति और राजाओं का इतिहास, प्राचीन मंदिर, गुहाये , मध्यकालीन भारत का कालक्रम और ऐतिहासिक घटनाये, भारत की स्वतंत्रता आंदोलन और उनके प्रमुख नेता, जान आंदोलन एवं क्रांति।
  • भूगोल : भारत की भौगोलिक स्थिति एवं पड़ोसी देश, बंदरगाह, हवाई अड्डे। भारत की तटीय सीमा, पडोसी देशों से लगती हुयी स्थलीय सीमा। पर्वतीय प्रदेश, कृषि प्रदेश। समुद्री इलाके इत्यादि।
  • अर्थशास्त्र : बजट की शब्दावली जिसमे राष्ट्रिय आय , आयकर , राजकोषीय लाभ- हानि, बजट की समीक्षा इत्यादि। पंचवर्षीय योजना और उसका महत्व; अर्थव्यवस्था में प्रसिद्ध व्यक्ति; संस्थान और उनका महत्व जैसे आरबीआई, सेबी आदि
  • राजनीती : भारत के प्रमुक्ष राजनेता एवं उनका इतिहास, न्यायपालिका, कार्यपालिका, व्यवस्थापिका एवं उनके कार्य।  भारत की न्यायिक प्रणाली एवं सुप्रीम कोर्ट। राज्य administration, election commission
  • करंट अफेयर्स : भारत के संदर्भ में हाल ही में हुयी कुछ महत्वपूर्ण राजनितिक घटनाये, आर्थिक गतिविधिया, खेल, जलवायु, अंतराष्ट्रीय  मामले, पर्यावरणीय मुद्दे इत्यादि।

CET Certificate 

जो अभ्यर्थी सामान्य पात्रता परीक्षा में सफल होंगे उनको प्रमाण पत्र भी जारी किया जायेगा जिसके बाद अभ्यर्थी को निम्नलिखित लाभ होंगे।

  1. CET प्रमाण पत्र की वैधता 2 वर्ष की होगी। 
  2. अभ्यर्थी का ग्रुप बी एवं Group C पदों पर आयोजित होने  भर्ती के लिए सीधा ही दूसरे चरण में मेरिट के आधार पर selection किया जायेगा। 
  3. CET पास अभ्यर्थी बैंक में क्लर्क पदों पर भर्ती एवं रेलवे, एसएससी में ग्रुप बी व  सी के पदों पर होने वाली भर्ती में के अंतर्गत दूसरे चरण में प्रवेश मिल जायेगा। 

Conclusion : CET Exam के तहत Railway एवं Banking sector में Group B & Group C पदों पर होने वाली भर्ती में सीधा फायदा मिलने वाला है इसलिए सभी Candidates जो रेलवे और बैंक की तैयारी कर रहे है वे अभी से CET Examination की Syllabus के अनुसार तैयारी शुरू कर दे।

DSGuruJi - PDF Books Notes

3 Comments

Leave a Comment