जानकारी हिंदी में

आयुष्मान भारत COVID-19 के खिलाफ लड़ने में मदद करेगा

18 मार्च 2020 को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने आयुष्मान भारत या प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना को कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ने के लिए शामिल किया है। अब तक भारत में कोरोना वायरस के 168 पुष्ट मामले दर्ज किए गए हैं। इनमें से भारत ने 14 को ठीक कर लिया है और वायरस की वजह से अब तक तीन की मौत हो चुकी है।

मुख्य बिंदु

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ने के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के साथ-साथ शामिल किया है । राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण आयुष्मान भारत की कार्यान्वयन एजेंसी है। इस योजना से रोगियों को भर्ती करने के लिए 19,840 पैनल वाले अस्पतालों की क्षमताओं की पहचान करने में मदद मिलेगी। इसके अलावा मंत्रालय सुविधाओं को रैंप पर लाने के लिए गैर-लाभकारी अस्पतालों को भी शामिल करेगा ।

योजना इन बेड की पहचान कर COVID-19 मरीजों के लिए आइसोलेटेड वार्ड स्थापित करने की है।

अन्य उपाय

मंत्रालय ने अस्पताल स्तर की तैयारियों का अध्ययन करने के लिए नीति आयोग और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) को भी शामिल किया है। साथ ही वेंटीलेटर और बेड का डाटाबेस भी एकत्र किया जाना है।

आयुष्मान भारत योजना

विवरण आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना भारत सरकार की राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति की एक प्रमुख योजना है जिसका उद्देश्य माध्यमिक और तृतीयक स्तर पर अपनी नीचे 40% गरीब और कमजोर आबादी को मुफ्त स्वास्थ्य कवरेज प्रदान करना है ।

DSGuruJi - PDF Books Notes
Don`t copy text!