Advertisements

आंध्र प्रदेश ने स्वतंत्रता दिवस पर ‘विलेज वालंटियर्स सिस्टम’ लॉन्च किया

 

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने लोगों की चौखट पर सरकारी सेवाएं प्रदान करने के उद्देश्य से अपनी सरकार के प्रमुख कार्यक्रम ‘विलेज वालंटियर्स सिस्टम’ का शुभारंभ किया। विजयवाड़ा में सीएम के स्वतंत्रता दिवस संबोधन के दौरान इस संबंध में घोषणा की गई थी।

विलेज वालंटियर्स सिस्टम के बारे में

इस योजना को आधिकारिक तौर पर 2 अक्टूबर 2019 को लॉन्च किया जाएगा, जिसमें महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती भी है  ।

इसका उद्देश्य लोगों के दरवाजे पर शासन सेवाएं प्रदान करना है। योजना को लागू करने के पीछे मूल विचार यह है कि लोगों में सरकार के प्रति विश्वास जगाया जाए और यह देखा जाए कि उनकी बुनियादी जरूरतों को उनके चरण-चरणों में पूरा किया जाए।

72 घंटे में लोगों तक शासन पहुंचाने के लिए प्रत्येक गांव में ग्राम सचिवालय स्थापित किए जाएंगे। इन ग्राम सचिवालयों को भी 2 अक्टूबर से स्वयंसेवकों को सरकार और राज्य के लोगों के बीच एक पुल बनाकर लॉन्च किया जाएगा।

स्वयंसेवक : इस योजना में 2.8 लाख से अधिक स्वयंसेवक शामिल होंगे। इसके तहत 1 स्वयंसेवक प्रत्येक गाँव में 50 परिवारों को शामिल करेगा। प्रत्येक स्वयंसेवक को पहचान पत्र दिए जाएंगे और उन्हें प्रति माह रु।

टेलीफोन नंबर :  लोगों की शिकायतों को प्राप्त करने के लिए मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) में कॉल सेंटर में टोल-फ्री टेलीफोन नंबर  1902 स्थापित किया जाएगा।

स्वयंसेवक 1 लाभार्थियों की पहचान करेंगे, उनकी समस्याओं को जानेंगे, और फिर उनके लिए सरकार द्वारा प्रदान की जा रही योजनाओं का वर्णन और रूपरेखा तैयार करेंगे।

महत्व : यह योजना गरीब से गरीब लोगों तक पहुंचने और सभी गांवों को आत्मनिर्भर बनाने में सक्षम होगी।

error: Content is protected !!