Computer Courses

क्‍या है 32 बिट और 64 बिट

– आप तो जानते ही हैं कि कंप्‍यूटर के सारे काम तेजी से करने के लिये ऑपरेटिंग सिस्‍टम के साथ-साथ आपके प्रोसेसर की भी अहम भूमिका होती है और यह इस बात पर निर्भर करती है कि अापका प्रोससर एक बार में कितना डाटा प्रोसेस करता है, यानि कितनी जल्‍दी सूचनाओं का आदान-प्रदान करता है।

– अब बात करते हैं बिट की। बिट (bit) कंप्‍यूटर की मैमोरी की सबसे छोटी ईकाई होती है, जब चार बिट को मिला दिया जाता है तो उसे निब्‍बल (Nibble) कहते हैं यानी 1 निब्‍बल = 4 बिट बाइट (Byte) और 8‍ बिट के एक समूह को बाइट कहते हैं।

– यानि 32 बिट के कंप्‍यूटर का प्रोसेसर एक बार में 32 बिट डाटा को प्रोसेस कर सकता है और 64 बिट का प्रोसेसर एक बार में 64 बिट डाटा का प्रोसेसर उससे दुगना डाटा एक बार में प्रोसेस करता है। अब एक और बात प्रोसेसर को यह डाटा प्रोसेस करने के लिये रैम की आवश्‍यकता होती है। 32 बिट के कंप्‍यूटर के कंप्‍यूटर में आप 4जीबी तक रैम इस्‍तेमाल कर सकते हैं जबकि 64 बिट के प्रोसेसर को डाटा प्रोसेस करने के लिये ज्‍यादा रैम की आवश्यकता होती है।

कैसे जानें कि आपके कंप्‍यूटर कितने बिट का है

– विंडोज xp या 7 में माय कंप्‍यूटर आयकन पर राइट क्लिक करें और प्रॉपर्टीज मेनू दबाएं। अब खुलने वाली स्क्रीन पर ऑपरेटिंग सिस्टम का सिस्टम टाइप देखिये। वहां आपको पता चलेगा कि आपका सिस्‍टम 32 बिट का है या 64 बिट का।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!