स्प्रिंग स्टील की बनाई जाती है ताँबे की नहीं।क्यों?

स्टील का यंग प्रत्यास्थता गुणांक ताँबे के यंग प्रत्यास्थता गुणांक से अधिक होता है। अतः दोनों पर समान विरुपक बल लगाकर हटाने पर स्टील ताँबे की अपेक्षा शीघ्र ही अपनी पूर्वावस्था में लौट आयेगा। अतः स्प्रिंग स्टील की बनायी जाती है।

error: Content is protected !!