General Science

. स्काइलैब पृथ्वी पर गिरते समय जल गयी थी।क्यों?

गिरते समय स्काइलैब ने  ज्यों ही वायुमंडल में प्रवेश किया, वायु के कारण उस पर घर्षण बल कार्य करने लगा। अतः ऊष्मा उत्पन्न होने से उसका ताप बढ़ने लगा। ज्यों-ज्यों स्काइलैब पृथ्वी के समीप आती गयी त्यों-त्यों वायु का घनत्व अधिक होने से घर्षण बल का मान बढ़ता गया, फलस्वरूप उत्पन्न ऊष्मा का मान भी बढ़ता गया ।जब उसका ताप अधिक हो गया होगा और वह जल गयी।

READ  एक व्यक्ति कीचड़ या रेत में चलने में कठिनाई अनुभव क्यों करता है?
DSGuruJi - PDF Books Notes

Leave a Comment