Government Schemes National

मेरा राशन मोबाइल एप्प’ लांच की गयी।

केंद्र सरकार ने 12 मार्च, 2021 को देश में “मेरा राशन मोबाइल एप्प” लॉन्च किया है। इस एप्प को ‘वन नेशन-वन राशन कार्ड ’की सुविधा के लिए लॉन्च किया गया था।

📱 मरा राशन मोबाइल एप्प :

इस एप्प को सरकार ने राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (NIC) के साथ मिलकर विकसित किया है। यह एप्प राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (NFSA) के लाभार्थियों के बीच कई “एक राष्ट्र-एक राशन कार्ड” प्रणाली से संबंधित सेवाओं की सुविधा के लिए विकसित किया गया है। यह प्रवासी लाभार्थियों, एफपीएस डीलरों और अन्य संबंधित हितधारकों को कई सेवाएं प्रदान करेगा। यह एप्प निकटतम उचित मूल्य की दुकान की पहचान करने में भी मदद करेगा। इसका लाभ उन राशन कार्ड धारकों को मिलेगा जो आजीविका के लिए दूसरे क्षेत्रों में चले जाएंगे। इस मोबाइल एप्लीकेशन को 14 भाषाओं में लॉन्च किया जाएगा। वर्तमान में यह अंग्रेजी और हिंदी में उपलब्ध है। इस एप्प की मदद से लाभार्थी आसानी से खाद्यान्न पात्रता, हालिया लेन-देन और उनकी आधार सीडिंग की स्थिति का विवरण देख सकते हैं। प्रवासी लाभार्थी इस एप्लीकेशन की सहायता से अपना प्रवासन विवरण भी दर्ज कर सकते हैं। लाभार्थी अपने सुझाव या प्रतिक्रिया भी दर्ज कर सकते हैं।

🧧 वन नेशन वन कार्ड योजना :

यह योजना सभी लाभार्थियों विशेष रूप से प्रवासियों को देश में कहीं से भी सार्वजनिक वितरण प्रणाली की सुविधा का लाभ देने के लिए शुरू की गयी थी। यह योजना राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत कार्यान्वित की जा रही है। इसका उद्देश्य फर्जी राशन कार्डों, अयोग्य राशन कार्डों और डुप्लीकेट राशन कार्डों को खत्म करना है

‘मेरा राशन’ ऐप के फायदे

  • इस ऐप पर राशन कार्ड होल्डर्स खुद चेक कर सकेंगे कि उनको कितना अनाज मिलेगा।
  • ‘मेरा राशन’ ऐप के आने से राशन वितरण में पारदर्शिता आएगी।
  • इस ऐप का फायदा खासतौर पर प्रवासी लोग कर सकेंगे, क्योंकि वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के तहत राशन कार्ड धारक देश में कहीं भी और किसी भी राशन की दुकान से अपने हिस्से का अनाज ले सकेंगे।
  • प्रवास पर जाने वाले लाभार्थियों को इस ऐप के जरिए यह मालूम करना आसान होगा कि उनके आसपास राशन की कितनी दुकानें हैं और कौन सी दुकान उनके सबसे ज्यादा करीब है।
  • इस ऐप के जरिए लाभार्थी अपने सुझाव भी दे सकते हैं।

ऐसे लॉग इन करें ‘मेरा राशन’ ऐप में

‘मेरा राशन’ ऐप को यूज करने के लिए आपको यह ऐप डाउनलोड करना होगा। उसके बाद एक लॉग इन प्रोसेस को फॉलो करना होगा। लॉग इन के लिए लाभार्थी को आधार या राशन कार्ड नंबर चाहिए होगा। इस नंबर को डालकर ही आप लॉग इन कर पाएंगे और इस ऐप पर मिलने वाली सुविधाओं का लाभ उठा पाएंगे।

1-3 रुपये प्रति किलोग्राम पर 81 करोड़ से अधिक लोगों को मिल रहा है राशन 

बता दें कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (National Food Security Act-NFSA) के तहत सरकार सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) के माध्यम से 81 करोड़ से अधिक लोगों को 1-3 रुपये प्रति किलोग्राम पर ज्यादा सब्सिडी के साथ फ़ूडग्रेन देती है। केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय बताया कि वन नेशन वन राशन कार्ड योजना से देशभर के 32 राज्य व केंद्र शासित प्रदेश जुड़ चुके हैं और बाकी राज्यों में भी यह योजना जल्द लागू हो जाएगी। वन नेशन वन राशन कार्ड योजना देशभर में लागू होने की समयसीमा 31 मार्च 2021 है, लेकिन दिल्ली, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़ और असम में अब तक यह योजना लागू नहीं हो पाई है।

DSGuruJi - PDF Books Notes
Don`t copy text!