भय से चेहरा पीला क्यों पड़ जाता है?

जब हमारे सामने कोई खतरा या भय दिखाई देता है हमारा मस्तिष्क कुछ ऐसे तंत्रिका आवेश भेजता है जो त्वचा की कोशिका को अस्थाई रूप से सिकुड़ने को कहते है। कोशिकाओं के संकुचित हो जाने से चेहरे की रक्त वाहिनियों में रक्त प्रवाह में बाधा उत्पन्न हो जाती है। अतः रक्त प्रवाह होने से चेहरा पीला पड़ने लगता है।

error: Content is protected !!