Blog

नासा का पर्सविरन्स रोवर मंगल पर सफलतापूर्वक लैंड

अमेरिकी स्पेस एजेंसी NASA का Perseverance रोवर 7 महीने बाद मंगल ग्रह पर सफलतापूर्वक लैंड हो गया। यह अब तक की सबसे उन्नत एस्ट्रोबायोलॉजी प्रयोगशाला हे, जिसे अन्य ग्रह पर भेजा गया है, गुरुवार को मंगल ग्रह के वातावरण से गुजरता है और एक विशाल गड्ढे के फर्श पर सुरक्षित रूप से उतरा, इसका पहला पड़ाव लाल ग्रह पर प्राचीन सूक्ष्मजीव जीवन के निशान की खोज करना हे। 19 Feb 2021 रात 2 बजकर 25 मिनट पर नासा ने यह ऐतिहासिक छलांग सफलता हासिल की।

जीवन की संभावनाएं तलाशेगा रोवर

इस परियोजना के वैज्ञानिक केन विलिफोर्ड ने कहा कि क्या हम इस विशाल ब्रह्मांड रूपी रेगिस्तान में अकेले हैं या कहीं और भी जीवन है? क्या जीवन कभी भी, कहीं भी अनुकूल परिस्थितियों की देन होता है?पर्सविरन्स नासा का भेजा गया अब तक का सबसे बड़ा रोवर है। 1970 के दशक के बाद से अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी का यह नौवां मंगल अभियान है। नासा के वैज्ञानिकों ने कहा कि रोवर को मंगल की सतह पर उतारने के दौरान सात मिनट का समय सांसें थमा देने वाला होगा। यदि सब कुछ ठीक रहा तो यह आज देर रात मंगल की सतह पर उतर जाएगा।

पर्सविरन्स रोवर

‘पर्सविरन्स’ नासा द्वारा भेजा गया अब तक का सबसे बड़ा रोवर है. 1970 के दशक के बाद से अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी का यह नौवां मंगल अभियान है. नासा के वैज्ञानिकों ने कहा कि रोवर को मंगल की सतह पर उतारने के दौरान सात मिनट का समय सांसें थमा देने वाला था.

DsGuruJi Homepage Click Here
DSGuruJi - PDF Books Notes

Leave a Comment