General Science

जीव की कतरन(क्लोनिंग) से नया जीव कैसे उत्पन्न करते हैं?

डा. विलमट ने वस्क गर्भवती भेड़ के थनों से कुछ कोशिकायें पृथक कर प्रयोगशाला में पेट्रीडिश में पोषक तत्वों के सहारे विकसित करना प्रारम्भ किया।एक मादा भेड़ से अनिषेचित अंडाणु निकालकर केंद्र पृथक कर उसमें पेट्रीडिश में विकसित हो रही कोशिका का केन्द्रक संलयित किया गया। संलयित कोशिका में जैव रासायनिक क्रियायें प्रारम्भ हो गयी तथा पेट्रीडिश में भ्रूण का निर्माण हो गया।इस तरह इस भ्रूण को तीसरी भेड़ के गर्भाशय में प्रत्यारोपित किया गया। गर्भाविधि पूर्ण होने पर इस भेड़ से जन्मा बच्चा उस भेड़ का हुबहू था।जिस भेड़ के थनों की कोशिका को पेट्रीडिश में विकसित किया गया था। इस विधि से जन्मी भेड़ को डॉली नाम दिया गया है।

READ  मकान की दीवारें नीचे से अधिक चौड़ी व ऊपर से कम चौड़ी क्यों बनाई जाती है?
DSGuruJi - PDF Books Notes

Leave a Comment