ऐल्कोहलीय पेय Alcoholic Beverages

शराब (wine) एक ऐल्कोहलीय पेय है, जो भिन्न-भिन्न पदार्थों के किण्वन से बनायी जाती है। इसमें ऐल्कोहॉल की मात्रा भी अलग-अलग होती है। बीयर, शैम्पेन, साइडर, पोर्ट एवं शेरी, व्हिस्की, ब्राण्डी, रम, जिन आदि कुछ प्रमुख शराब हैं। बियर (Beer) में ऐल्कोहॉल की मात्रा सबसे कम तथा रम (Rum) में सबसे ज्यादा होती है।

एल्कोहलीय पेय पदार्थों को दो भागों में विभाजित किया गया है

  1. स्रावित पेय (Distilled Beverages): ये बिना स्रावित पेय के स्रवण द्वारा तैयार किये जाते हैं। इसमें ऐल्कोहॉल की मात्रा 40% से 55% तक होती है।
स्रावित पेयऐल्कोहॉल का %स्रोतस्रावित पेयऐल्कोहॉल का %स्रोत
व्हिस्की40-50%जौरम45–55%शीरा
ब्रांडी40-50%अंगूरजिन35-40%मकई

 

  1. बिना स्रावित पेय (Undistilled Beverages):ये फलों के रस या अन्न के किण्वन से बनाये जाते हैं। किण्वित द्रव को छानकर उसमें इच्छित रंग एवं सुगन्ध मिला दिये जाते हैं। इनमें ऐल्कोहॉल की मात्रा 3% से 15% तक होती है।
बिना स्रावित पेयऐल्कोहॉल का %स्रोतबिना स्रावित पेयऐल्कोहॉल का %स्रोत
बियर3–6%जौशैम्पेन10-15%अंगूर
पोर्ट और शेरी15-25%अंगूरसाइडर2–6%सेव

 

ऐल्कोहॉल सम्बन्धी शब्दावली

काष्ठ स्पिरिट (wood sprit):मिथाइल ऐल्कोहॉल कोकाष्ठ स्पिरिटके नाम से भी जाना जाता है, क्योंकि शुरू में यह मुख्य रूप से लकड़ी के भंजक स्रवण (Destructive Distillation) से ही प्राप्त किया गया था।

अन्न ऐल्कोहॉल (Grain Alcohol):इथाइल ऐल्कोहॉल कोअन्न ऐल्कोहॉलके नाम से जाता है, क्योंकि यह स्टार्चयुक्त पदार्थों से प्राप्त किया जाता है।

 

परिशुद्धऐल्कोहॉल(Absolute Alcohol):100% of ऐल्कोहॉल कोपरिशुद्ध ऐल्कोहॉलकहते हैं। यह पूर्णतः शुद्ध एवं निर्जल होता है।

रेक्टिफाइड स्पिरिट(Rectified Spirit):इसे व्यावसायिक ऐल्कोहॉल (Commercial Alcohol) भी कहते हैं। इसमें 95.6% इथाइल ऐल्कोहॉल तथा शेष 4.4% जल होता है।

शक्ति ऐल्कोहॉल (Power Alcohol):परिशोधित स्पिरिट, बेन्जीन एवं पेट्रोल के मिश्रण कोशक्ति ऐल्कोहॉलकहा जाता है। इसका प्रयोग इंजनों के चलाने में किया जाता हैं। शक्ति उत्पादन में प्रयुक्त होने के कारण ही यह ऐल्कोहॉलशक्ति ऐल्कोहॉलकहलाता है।

विकृतिकृत ऐल्कोहॉल (Denatured Alcohol):पीने के अयोग्य बने हुए इथाइल ऐल्कोहॉल को विकृतिकृत ऐल्कोहॉल कहते हैं, इस प्रकार के ऐल्कोहॉल बनाने में प्रायः परिशोधित स्पिरिट में मिथाइल ऐल्कोहॉल, पिरिडीन, एसीटोन आदि विषैले पदार्थ मिलाये जाते हैं।

DsGuruJi HomepageClick Here

Leave a Comment