एक व्यक्ति सफ़ेद मक्का का निरंतर प्रयोग करते रहने से अंधा क्यों हो जाता है?

सफ़ेद मक्का में केरोटिन वर्णक नहीं होता है यह वर्णक शरीर में विटामिन-ए में परिवर्तित हो जाता है। जो व्यक्ति निरंतर सफ़ेद मक्का का प्रयोग करते है और विटामिन-ए प्रदान करने वाले अन्य खाद्य नहीं ले पाते है उनके शरीर में विटामिन-ए की कमी हो जाती है।जिससे व्यक्ति अन्धे हो जाते हैं।

error: Content is protected !!
/* ]]> */