एक वृद्ध व्यक्ति को द्वि-फोकसीय लैंस का चश्मा लगता है इसमें ऊपर तथा नीचे वाले भाग में कौन से लैंस होते हैं?

आयु में वृद्धि के साथ लैंस का लचीलापन कम होता जाता है जिसके कारण नेत्र की संमजन क्षमता कम होती जाती है जिससे वह दूर व पास स्थित दोनों ही वस्तु को स्पष्ट नहीं देख पाता है। ऐसे में द्वि-फोकसीय लैंस का चश्मा लगता है। इसमें नीचे का भाग उत्तल लैंस(पास की वस्तुओ को साफ देखने के लिये) तथा ऊपर का भाग अवतल लैंस(दूर की वस्तु को साफ़ देखने के लिये) लगाया जाता है।

error: Content is protected !!