General Science

एक जार में खाने के सोडे के संतृप्त विलयन में सिरका डालकर नेफ़्थलीन की बॉल डालने पर बॉल नीचे से ऊपर व ऊपर से नीचे की ओर गति क्यों करती है?

एक जार में खाने के सोडे के संतृप्त विलयन में सिरका डालकर नेफ़्थलीन की बॉल डालने पर बॉल नीचे से ऊपर व ऊपर से नीचे की ओर गति करती है क्योंकि सिरका तथा खाने का सोडा आपस में क्रिया करके CO2 गैस बनाते हैं और यह CO2 गैस बुलबुलों के रूप में बाहर निकलती है जिसके कारण नेफ्थालिन की बॉल ऊपर नीचे गति करती है।

DSGuruJi - PDF Books Notes

Leave a Comment